TECHNOVEDANT


"वक्रतुण्ड महाकाय सुर्यकोटि समप्रभ,
निर्विघ्नं कुरु मे देव सर्वकार्येषु सर्वदा"


TECHNOVEDANT

गणेश चतुर्थी की आपको और आपके परिवार को हार्दिक शुभकामना,
दिल से जो भी मांगोगे मिलेगा ये गणेश जी का दरबार है,
देवों के देव वक्रतुंडा महाकाया को अपने हर भक्त से प्यार है,




गणपति बाप्पा आये हैं साथ खुशहाली लाये हैं
गणेश जी के आशीर्वाद से ही हमने सुख के गीत गाये हैं।



आपका सुख गणेश के पेट जितना बड़ा हो
आपका दुःख उंदर जैसा छोटा हो,
आपकी लाइफ गणेश जी की सूंड जितनी बड़ी हो
आपकी वाणी मोदक जैसी मीठी हो



TECHNOVEDANT

TECHNOVEDANT


Click
Share with your Friends